रोज सिर्फ 1 आंवला और पाए अनेकों जादुई फायदे :-

आंवला (अमृत फल) के फायदे:-

आंवला एक ऐसा फल आयुर्वेद में जिसकी तुलना अमृत से की गई है इशलिये इसे अमृत फल भी कहा जाता है वही चाइनीज मेडिसिन भी इसे लाइफ सेवर कहती है जो की किसी और फल के लिए नहीं कहा गया है इसमें विटमिन्स ,मिनिरल्स ,एंटीऑक्सीडेंट्स  भरपूर मात्रा में भरे पड़े है। यह पुरे शरीर के लिए बेहद पावरफुल टॉनिक की तरह काम करता है तो आइये जानते है की आंवला (अमृत फल) के फायदे यह कैसे आपके लिए वरदान साबित हो सकता है और रोज सिर्फ 1 आंवला और पाए अनेकों जादुई फायदे क्या हैं। 

आंवला Image

विटामिन – सी से भरपूर आंवला:-

जो की एक एंटीऑक्सीडेंट,एंटीइन्फ्लामेट्री,एंटीबैक्टेरियल की तरह कार्य करता है और हमारी इम्युनिटी को बढ़ाता जिससे हमें जल्दी – जल्दी सर्दी – जुकाम (कफ ,कोल्ड ) होने से बचता है इसके साथ – साथ हमारे शरीर में होने वाले फ्री रेडिकल्स से हमें बचाता है अब आप सोचेंगे फ्री रेडिकल्स क्या है तो यह हमारे शरीर में कोशिकाओं के टूटने से उत्पन्य होता है जिससे हमे गंभीर बीमारिया हो सकती है इशलिये हमारे बॉडी में विटामिन सी होना बहुत जरुरी होता है ।

जिसमे औरतों के लिए 75 mg ,और पुरुषो के लिए 90 mg विटामिन – सी रोज चाहिए होता है ऐसे में अगर आप दिन भर में 1 आवंला भी ले लेते है तो लगभग आपको 500 mg विटामिन सी  मिल जाता है और अगर आप ज्यादा खाना चाहे तो आप 2 से 3 आवंले एक दिन में ले सकते है क्योंकि विटामिन सी लेने की एक दिन में औसत मात्रा 2000 mg मानी  गयी है। और अगर आप इसे काली मिर्च के साथ उपयोग में लाते  है तो इसका ज्यादा फायदा मिलेगा। 

क्रॉनिक डीजीस से बचाता है :-

यह एंटी कैंसरस भी होता है और भोत सी स्ट्डीज में (इंडियन गुस बैरी) यानि आवंला के बहोत अच्छे परिणाम देखें गए है और नेशनल लाइब्रेरी ऑफ मेडिसिन में एक रिसर्च  पब्लिश की गई थी “मॉलिक्युलर मैकेनिजम ऑफ कैसंर प्रिवेंसन बाई ग्रूस बैरी “(आंवला ) इसमें यह बताया गया था की यह हमारे इम्युनसिस्टम को इम्प्रूव करता है ,कॉन्स्टिपेशन को ठीक करता है स्टमक एसिडिटी और अल्सर तक को भी नहीं होने देता है खून को भी साफ करता है डायरिया ,दी डायब्टिज और कैसंर तक को ठीक कर सकता है और इस स्ट्डी में इसे कैंसर प्रिवेंटिव भी खा गया है। 

आंवला एंटीएजिंग के रूप में :-

यह आपके समय से पहले बढ़ती उम्र को भी रोकने में मदद करता है जो की इसमें उपस्थित कॉलेजैन की हेल्फ से होता है हमारे शरीर में जितनी मात्रा में कोलेजेन होगा हमारी स्किन टाइट रहेगी और लिगमेंट ,जोड़ों को स्वस्थ रखने में हेल्फ करता है। 

दिल को स्वस्थ रखने के लिए :-

अब आवंला आपके दिन को भी बहुत पसंद आने वाला है क्योंकि यह हार्ट को भी बहुत फायदा पहुंचता है इसमें मौजूद सालिबल फाइबर आपके बैड कोलेस्ट्रॉल के एब्जॉब्सन को धीरे करते है इसमें फ़्लेक्टिन और फ्लेवोनाइट्स भी होते है जो की बैड कोलेस्ट्रॉल (LDL) को कम करते है और गुड कोलेस्ट्रॉल (HDL)को बढ़ाता हैं, यह ट्राइग्लिसराइड को कम करता है खून को पतला करता हैं जिससे BP भी कंट्रोल रहता है।  

बालों की समस्या को खत्म करता है :-

एक स्टडी में बताया गया की अगर कोई 90 दिन तक (3 माह )आंवले का लगातार खाने के साथ बालों में लगाता भी है तो उसके बालों से जुड़ी समस्या झड़ने के साथ बाल काले भी होने लगेंगे। 

लिवर हेल्थ के लिए :-

यह आपके लिवर के लिए भी बहोत मददगार होता है अगर किसी को फैटी लिवर की समस्या है तो ,लिवर सिरोसिस के साथ आपके ओवरऑल लिवर हेल्थ के लिए उपयोगी हो सकता है जो की इसमें मौजूद एंटीऑक्सीडेंट के कारन संभव होता है 

यह भी देखें: सहजन के फायदे और उपयोग 

कितने प्रकार से आंवले का उपयोग कर सकते है :-

  1. रोज 1 कच्चा आंवला आप डारेक्ट अपने खाने में शामिल कर सकते है। 
  2. 2 से 3 आवंले को लेकर काट ले और मिक्सर में थोड़ा भुना हुआ जीरा और रॉक साल्ट के साथ काली मिर्च डाल के जूस बनाकर ले सकते हैं। 
  3. अचार के रूप में जो की आप अपने घर में बनाकर तयार करते है न की मार्केट से खरीद के क्योंकि मार्केट का अचार बहोत स्पाइसी होता है जो की सेहद के लिए सही नहीं  है। 
  4. मुरब्बा बनाकर भी आप इसका उपयोग कर सकते है लेकिन उसको बंनाने में शक्कर की जगह गुड़ का उपयोग करें। 

अस्वीकरण:  यह लेख केवल सामान्य जानकारी प्रदान करती है।अधिक जानकारी के लिए हमेशा किसी विशेषज्ञ या अपने चिकित्सक से परामर्श करें।jeewanlakshay.com इस जानकारी के लिए ज़िम्मेदारी का दावा नहीं करता है।

अपना सुझाव अवश्य सांझा करें। 
धन्यवाद ! 

Leave a Comment

1 आंवले का कमाल ?